Editor-In-Chief

spot_imgspot_img

पंजाब के नामी इंडस इंटरनेशनल अस्पताल में किडनी ट्रांसप्लांट मामले का हुआ भांडा भोड़

Date:

पंजाब के नामी इंडस इंटरनेशनल अस्पताल में किडनी ट्रांसप्लांट मामले का हुआ भांडा भोड़

आंखों में धूल झोंकने के लिए नकली बाप बेटा बनाकर चलाया जा रहा था किडनी ट्रांसप्लांट का धंधा

इंडस अस्पताल के कर्मचारी ही चलाते थे रकेट, पुलिस ने दबोचे

चंडीगढ़ 4 अप्रैल ( हरप्रीत सिंह जस्सोवाल ) डेरा बस्सी के चंडीगढ़ अंबाला हाइवे पर मौजूद इंडस इंटरनेशनल अस्पताल से जुड़े एक किडनी रैकेट का पर्दाफाश हुआ है । पुलिस ने अस्पताल के एक कोऑर्डिनेटर सहित तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।


28 वर्षीय कपिल नामक एक व्यक्ति ने पैसों के लालच में अपनी किडनी बेच दी। किडनी
53 वर्षीय सतीश ताईल निवासी सोनीपत को उसका नकली 33 वर्षीय बेटा अमन ताईल बनकर दी गई। इंडस इंटरनेशनल हॉस्पिटल में 6 मार्च को किडनी रिप्लेसमेंट की गई थी। कपिल के मुताबिक, फर्जी बेटे बनाने के सारे दस्तावेज अस्पताल में बतौर कोऑर्डिनेटर काम करते अभिषेक ने तैयार किए थे । अभिषेक ने उन्हें किडनी के बदले 10 लाख रुपए देने की पेशकश की थी । उन्होंने आरोप लगाया कि किडनी निकालने के बाद उन्हें केवल साढ़े 4 लाख रुपए दिए गए और घर भेजने की बजाय एक कमरे में बंद कर दिया गया । साढ़े 4 लाख रुपए में से उसने अपने दोस्त के कहने पर इसे दोगुना करने के लालच में 4 लाख रुपए भी गवा दिए। जिसके बाद उसके पास न तो पेसे बचे और न ही किडनी रही। इसके इलावा ना ही बक्या राशी उसे दी गई। पीड़ित ने पुलिस हेल्पलाइन नंबर 112 पर शिकायत दर्ज कराई । जिसके बाद पुलिस उसे सरकारी अस्पताल ले गई ।

कपिल को असली दिखाने के किए किडनी लेने वाले परिवार के साथ फोटो खिंचवाई और असली बेटा दिखाने के लिए रिकॉर्ड के साथ भी लगाई गई। वोटर आईडी और आधार कार्ड भी जाली तैयार किया गया। ग्राम पंचायत के दस्तावेज भी रिकॉर्ड के साथ लगाए गए हैं । यहां तक कि ब्लड रिपोर्ट में भी हेरफेर किया गया है ।

इस संबंध में पुलिस ने मामला दर्ज कर दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया था और उन्हें जेल भेज दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related